Author Archive

30

September

test

28

July

React Introduction|What Is React|reactjs development company in india

ReactJS is a declarative, environment friendly, and flexible JavaScript library for constructing reusable UI parts. It’s an open-source, component-based front finish library accountable just for the view layer of the appliance. It was created by Jordan Walke, who was a software program engineer at Fb. It was initially developed and maintained by Fb and was later utilized in its merchandise like WhatsApp & Instagram. Fb developed ReactJS in 2011 in its newsfeed part, however it was launched to the general public within the month of Might 2013.

Immediately, a lot of

Amit Shah at Bihar Jan Samvaad rally: NDA will win two-thirds majority in Bihar polls under Nitish Kumar’s leadership, says home minister – Firstpost

18

June

Amit Shah at Bihar Jan Samvaad rally: NDA will win two-thirds majority in Bihar polls underneath Nitish Kumar’s management, says dwelling minister

New Delhi: Setting the tone for Bihar meeting polls, Union Dwelling Minister Amit Shah on Sunday mentioned the state moved from “jungle raj to janta raj” in the course of the NDA rule and expressed confidence that the alliance will get a two-third majority within the state meeting polls underneath the management of Nitish Kumar.

Addressing the social gathering staff and folks of Bihar by means of a digital rally, he attacked the opposition RJD saying the expansion fee of the state was simply 3.9 pe cent when the social gathering

26

May

रोटी बेटी के रिश्ते के बीच चाइनीज वाइरस

भारत और नेपाल केवल पड़ोसी देश नहीं हैं बल्कि इनका सदियों पुराना नाता है जो इन्हे सामाजिक, आर्थिक, सांस्कृतिक, और धार्मिक रूप से जोड़ता है। नेपाल से भारत का रिश्ता रोटी और बेटी का कहा जाता है ।भारत और नेपाल के बीच 1,850 किमी लंबा बॉर्डर है।सिक्किम, पश्चिम बंगाल, बिहार, उत्तर प्रदेश,उत्तराखंड भारतीय राज्य जिनकी सीमा नेपाल से छूती है । भारत-नेपाल संधि ने नेपालियों को भारतीय जनता के समान शिक्षा और आर्थिक अवसर देने की बात कही गई। भारत नेपाली नागरिकों को सिविल सेवा सहित दूसरी सरकारी सेवाओं में

18

May

रिवर्स माइग्रेशन उद्योग जगत के लिए बड़ी समस्या

संयुक्त राष्ट्र ने अनुमान के अनुसार कोविड-19 महामारी के चलते इस साल वैश्विक अर्थव्यवस्था में 3.2 प्रतिशत की कमी आएगी. यह 1930 की महामंदी के बाद सबसे अधिक गिरावट होगी.पहले से मुश्किलें झेल रही भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए कोरोना वायरस का हमला एक बड़ी मुसीबत लेकर आया है.पिछले साल ऑटोमोबाइल सेक्टर, रियल स्टेट, लघु उद्योग समेत असंगठित क्षेत्र में सुस्ती छाई हुई थी. बैंक एनपीए की समस्या से अब तक निपट रहे हैं.अब ऊपर से कोरोना,लॉकडाउन और रिवर्स माइग्रेशन की समस्या .अगर कोरोना संकट के बाद उद्योग धंधे चालू भी

14

May

Test

{"ajaxEndpoint":"http:\/\/www.horizonss.co.in\/wp-admin\/admin-ajax.php?action=totalpoll","behaviours":{"ajax":true,"scrollUp":true,"async":false},"effects":{"transition":"fade","duration":"500"},"i18n":{"Previous":"Previous","Next":"Next","of":"of","Something went wrong! Please try again.":"Something went wrong! Please try again."}} Do you support NRC & CAA? YesNoField ResultsVote

13

May

मोदी की अग्नि परीक्षा

कोरोना वायरस का संक्रमण दुनिया के किसी भी राजनेता का आने वाला भविष्य तय करेगा। और मोदी इसमें कोई अपवाद नहीं है।इस महाआपदा से निपटने के लिए  किस नेता ने क्या किया, ये इतिहास के पन्नो  में ज़रूर दर्ज होगा। कोरोना संकट के 12 मई को पांचवी बार देश को सम्बोधित किया देश को आत्मनिर्भर बनाने के अभियान की घोषणा की। इसके लिए 20 लाख करोड़ रु का आर्थिक पैकेज घोषित किया। यह देश के जीडीपी का करीब 10% है। जीडीपी के अनुपात के लिहाज से यह दुनिया का 5वां

10

May

कोरोना से लड़ाई में भी घुसा राजनीति का “वायरस”

कोरोना से लड़ाई तो पूरा देश लड़ रहा है, सरकार भी लड़ रही है। लेकिन अब इस लड़ाई के साथ एक और लड़ाई भी शुरु हो गई है। केंद्र और राज्य की सरकारों की लड़ाई। सारे नेता और पार्टियां कह रही हैं कि कोरोना पर राजनीति नहीं होनी चाहिए। लेकिन अब इस पर जमके राजनीति हो रही है। लॉकडाउन की घोषणा या मियाद बढ़ाने की बात पर राहुल गाँधी ने लॉकडाउन को पॉज बटन के तौर पर समझाते हुए  कहा  कि भारत में कोरोना को लेकर टेस्टिंग कम हो रही

08

May

जाति आधारित जनगणना के सियासी मकसद

भारत में जनगणना एक पुरानी सरकारी कवायद है। देश में साल 2011 में आखिरी जनगणना हुई थी ।उस समय भी जाति आधारित जनगणना को लेकर काफी बहस हुई थी।अब देश में फिर से 2021 में होने वाली जनगणना के साथ-साथ जातिगत जनगणना की मांग भी तेज हो गई है। सियासी पार्टियां जातिगत जनगणना के आधार पर राजनीतिक समीकरण सेट करने में जुट गई हैं।महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने जनवरी में विधानसभा का विशेष सत्र बुलाकर जातिगत आधारित जनगणना प्रस्ताव पेश किया था, जिसे ध्वनि मत से पारित कर दिया

06

May

कोविड-19 का भारतीय राजनीती पर प्रभाव

भारत में कोरोना वायरस का प्रकोप बढ़ता जा रहा है. केंद्र और राज्य सरकारें इससे निपटने के लिए युद्ध स्तर पर काम कर रही हैं.वजह से आर्थिक गतिविधियां ठप पड़ गई हैं.हर क्षेत्र पर इसका प्रभाव पड़ रहा आने वाले समय में भारतीय राजनीती पर भी इसका रभाव पड़ना तय है
ऐसे में यह समझना होगा कि कोरोना वायरस की वजह से भारत की राजनीति किस-किस तरह से प्रभावित हो सकती है.
अर्थव्यवस्था
भारतीय रिजर्व बैंक ने कहा है कि कोविड-19 संक्रमण भारत के भविष्य पर किसी बुरे साए की भांति झूल रहा

Open chat